Homebhojpuriसुसाइड से पहले बर्थडे पार्टी में बेहद खुश थीं आकांक्षा

सुसाइड से पहले बर्थडे पार्टी में बेहद खुश थीं आकांक्षा

भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री की मशहूर एक्ट्रेस और मॉडल आकांक्षा दुबे की मौत ने सभी को चौंका दिया है. वाराणसी के सारनाथ थाना क्षेत्र के एक होटल में आकांक्षा ने फांसी के फंदे से लटक कर अपनी जान ले ली. अभी तक उनके ऐसा करने की वजह पता नहीं चल सकी है. पुलिस इस मामले की जांच में जुटी हुई है. जानकारी मिली है कि शनिवार, 25 मार्च की रात को आकांक्षा एक बर्थडे पार्टी में शामिल होने के लिए होटल से निकली थीं. देर रात वो होटल में वापस आई थी.

पुलिस कर रही मामले की जांच

आकांक्षा दुबे, वाराणसी में अपने एक प्रोजेक्ट की शूटिंग के सिलसिले में आई थीं. वाराणसी के सारनाथ थाना क्षेत्र के होटल सुमेंद्र रेजिडेंसी के कमरा नम्बर 105 में आकांक्षा ठहरी थीं. मिली जानकारी के मुताबिक, एक्ट्रेस का कमरा जब सुबह बहुत देर तक नहीं खुला, तो इसकी सूचना पुलिस को दी गई. जब कमरे को मास्टर चाबी से खोला गया तो आकांक्षा दुबे का शव पंखे से लटका पाया. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और मामले की जांच में जुट गई.

मेकअप-हेयर आर्टिस्ट ने किया बड़ा खुलासा

आकांक्षा दुबे के मेकअप आर्टिस्ट राहुल और हेयर आर्टिस्ट रेखा मौर्या ने ही बड़ी बात का खुलासा किया है. उन्होंने बताया कि शनिवार, 25 मार्च की शाम को आकांक्षा एक बर्थडे पार्टी में शामिल होने के लिए होटल से निकली थी. वो काफी खुश थीं. उनको किसी तरह का तनाव नहीं था और ना ही किसी से डर था. एक्ट्रेस एक शेरनी की तरह रहती थीं. इसके अलावा आकांक्षा दुबे अपने सहकर्मियों का बहुत ख्याल रखती थीं और वह सभी एक परिवार की तरह रहते थे.

लेकिन इतना बड़ा कदम उन्होंने क्यों उठा लिया यह नहीं मालूम है. दोनों ने कहा कि वह चाहते हैं कि इस घटना के पीछे की सच्चाई सामने आए. उन्होंने बताया कि कल रात को बर्थडे पार्टी में शामिल होने के पहले होटल से निकलने के ठीक पहले आकांक्षा दुबे ने अपना एक रील इंस्टाग्राम पर भी डाला था. इसमें वह काफी खुश नजर आ रही हैं. लेकिन किसी को नहीं पता था कि ऐसा हो जाएगा.

हेयर स्टाइलिस्ट रेखा मौर्या ने बताया कि आज से शुरू होने वाली नई फिल्म ‘लायक हूं मैं नालायक नहीं’ की शूटिंग के लिए आकांक्षा को सुबह 7 बजे ही तैयार होना था. लेकिन जब वह अपने होटल के कमरे से बाहर नहीं आईं, तो 10 बजे के आसपास उन्हें लेने किसी को भेजा गया. उनके कमरे के दरवाजे को काफी देर खटखटाने पर भी उन्होंने दरवाजा नहीं खोला. इसके बाद बगल के रूम में रुके डायरेक्टर ने कहा कि उनके कमरे के बाथरूम से पानी की आवाज आ रही है, हो सकता है वह नहा रही हों, लेकिन आकांक्षा इतनी देर तक नहीं नहाती हैं. काफी देर बीतने के बाद आकांक्षा के रूम को होटल से मास्टर चाबी लेकर खोला गया और देखा गया कि उनकी बॉडी पंखे के लटक रही है.

इस बारे में और जानकारी देते हुए वाराणसी पुलिस कमिश्नरेट के एसीपी सारनाथ ने बताया, ‘आकांक्षा दुबे के कमरे से फिलहाल किसी तरह का सुसाइड नोट नहीं मिला है. वह अपनी आज से शुरू होने वाली फिल्म की शूटिंग के सिलसिले में अपने फिल्म यूनिट के बाकी साथियों के साथ 22 मार्च को वाराणसी आई थीं और होटल में ठहरी थीं.’

उन्होंने आगे बताया, ‘आकांक्षा दुबे का शव पंखे के सहारे रस्सी से लटक रहा था. जिसे उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. आकांक्षा मूल रूप से भदोही के चौरी की रहने वाली थीं, लेकिन फिलहाल परिवार के साथ मुंबई में रह रही थीं. उनके परिवार को उनकी मौत की सूचना दे दी गई है और पुलिस मामले को सुसाइड मानकर जांच कर रही है.’

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments